नमक के चमत्कारी उपयोग - 3

नमक के पानी से कपड़े पर लगे स्याही के धब्बे दूर हो जाते हैं। नमक के पानी को दीमक लगे स्थान पर छिड़कने से दीमके नष्ट हो जाती हैं। नमक मिले पानी में फूल तोड़कर रखने से वह कई दिनों तक ताजा ही बना रहता है।

नमक के चमत्कारी उपयोग - 3

नमक के चमत्कारी उपयोग - 3


नमक के पानी से कपड़े पर लगे स्याही के धब्बे दूर हो जाते हैं।

नमक के पानी को दीमक लगे स्थान पर छिड़कने से दीमके नष्ट हो जाती हैं।

नमक मिले पानी में फूल तोड़कर रखने से वह कई दिनों तक ताजा ही बना रहता है।

यदि लोहा करते समय कपड़े पर जलने के दाग पड़ जायँ तो उनपर नमक रगड़ कर धो देने से वे मिट जाते हैं।

ताजी सब्जियों को यदि कुछ देर तक नमक मिले पानी में रख दिया जाय तो उनमें स्थित कीड़े बिल्कुल नष्ट हो जायेंगे।

सिरके में नमक डालकर धब्बे वाले चीनी के बर्तन साफ करने से वे स्वच्छ हो जाते हैं।

चावलों में पिसा हुआ नमक मिलाकर रखने से चावलों में कीड़े नहीं लगने पाते।

लालटेन के तेल में यदि नमक का एक टुकड़ा डाल दिया जाय तो तेल कम जलता है और प्रकाश तेज होता है।

काली स्याही का दाग लग जाने पर नमक के पानी में कपड़ा भिगोकर बाद में उसे अमोनिया से धो देने से दाग साफ हो जाते हैं।

नमक के पानी से प्याज के बर्तन धोने से प्याज की बदबू शीघ्र ही दूर हो जाती है।

नींबू के रस निचोड़े हुये टुकड़ों में पिसा हुआ नमक भर कर पीतल के बर्तनों पर मलने से बर्तन चमकने लगते हैं।

नमक मिले पानी से मुंह धोना चेहरे को खुशरंग बनाता है।

चिकनाई को साफ करने में नमक बेजोड़ है। काँसे, ऐलुमिनियम, तथा पीतल आदि के बर्तन नींबू और नमक मिलाकर मलने से नये जैसे चमचमाने लगते हैं।

फूलदान में फूल रखने से पूर्व यदि फूलदान में थोड़ा सा नमक मिला दिया जाय तो फूल अधिक समय तक ताजे बने रहते हैं।

You are Viewing This Page of site https://rajyantra.com

Social Share

You might also like!